Prabhu More Avagun Lyrics From Sur Sangam [English Translation]

Prabhu More Avagun Lyrics: The latest song ‘Prabhu More Avagun’ from the Bollywood movie ‘Sur Sangam’ Sung by S. Janaki. The song lyrics were also written by Vasant Dev and the music is composed by Laxmikant Shantaram Kudalkar & Pyarelal Ramprasad Sharma. It was released in 1985 on behalf of Saregama. This film is directed by K. Viswanath.The Music Video Features Girish Karnad, Jayapradha, and Sachin.Artist: S. JanakiLyrics: Vasant DevComposed: Laxmikant Shantaram Kudalkar & Pyarelal Ramprasad SharmaMovie/Album: Sur SangamLength: 2:44Released: 1985Label: Saregama

Prabhu More Avagun Lyrics

प्रभु मोरे अवगुण चित न धरो
प्रभु मोरे अवगुण चित न धरो
प्रभु मोरे प्रभु मोरे
अवगुण चित न धरो
अवगुण चित न डारो
प्रभु मोरे अवगुण चित न धरो
मैं लाङला जनम जनम का
मैं तो कीच भरा
प्रभु मैं लाङला जनम जनम का
मैं तो कीच भरा
तुम निर्मल गंगा जल
छू कर पाप हरो
प्रभु मोरे अवगुण चित न धरो
प्रभु मोरे अवगुण चित न धरोभवसागर में फसी नाव का
मैं बटखा पंछी
भवसागर में फसी नाव का
मैं बटखा पंछी
इस पंछी को चरन सरन दो
अब न देर करो
प्रभु मोरे अवगुण चित न धरो
प्रभु मोरे प्रभु मोरे
प्रभु मोरे अवगुण चित न धरो.

Prabhu More Avagun Lyrics English Translation

प्रभु मोरे अवगुण चित न धरो
Lord, don’t mind my flaws
प्रभु मोरे अवगुण चित न धरो
Lord, don’t mind my flaws
प्रभु मोरे प्रभु मोरे
Lord More Lord More
अवगुण चित न धरो
Don’t mind the demerits
अवगुण चित न डारो
Don’t worry about flaws
प्रभु मोरे अवगुण चित न धरो
Lord, don’t mind my flaws
मैं लाङला जनम जनम का
I came to Janam Janam Ka
मैं तो कीच भरा
I am full of mud
प्रभु मैं लाङला जनम जनम का
Lord, I have come to birth
मैं तो कीच भरा
I am full of mud
तुम निर्मल गंगा जल
You pure Ganga water
छू कर पाप हरो
Beat the sin by touching
प्रभु मोरे अवगुण चित न धरो
Lord, don’t mind my flaws
प्रभु मोरे अवगुण चित न धरो
Lord, don’t mind my flaws
भवसागर में फसी नाव का
Of a ship stranded in the ocean
मैं बटखा पंछी
I duck bird
भवसागर में फसी नाव का
Of a ship stranded in the ocean
मैं बटखा पंछी
I duck bird
इस पंछी को चरन सरन दो
Feed this bird
अब न देर करो
Don’t delay now
प्रभु मोरे अवगुण चित न धरो
Lord, don’t mind my flaws
प्रभु मोरे प्रभु मोरे
Lord More Lord More
प्रभु मोरे अवगुण चित न धरो.
Lord, don’t mind my shortcomings.

Leave a Comment